इंडियाराजनीती

कंगना पर CISF कर्मी ने जड़ दिया थप्पड़, किसान आंदोलन पर बयान से थी आहत

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर थप्पड़ मारे जाने की खबर है। उन्हें सीआईएसएफ की महिला सुरक्षाकर्मी ने थप्पड़ मारा। यह घटना उस दौरान हुई, जब वह दिल्ली की फ्लाइट पर चढ़ने के लिए आ रही थीं। कंगना रनौत इस लोकसभा चुनाव में मंडी सीट से उतरी हैं और विजय पाई है। कंगना रनौत को थप्पड़ मारने की आरोपी CISF की महिला सुरक्षाकर्मी को हिरासत में ले लिया गया है। कंगना रनौत भाजपा के संसदीय दल की दिल्ली में होने वाली मीटिंग में शामिल होने के लिए आ रही थीं। वह सुरक्षा क्लियरेंस कराने के बाद विमान में बोर्डिंग के लिए जा रही थीं।

इसी दौरान सीआईएसएफ की सुरक्षाकर्मी कुलविंदर कौर ने उन्हें थप्पड़ जड़ दिया। इस मामले में कंगना रनौत ने शिकायत दर्ज कराई और फिर दिल्ली के लिए रवाना हो गईं। माना जा रहा है कि दिल्ली पहुंचने पर कंगना इस बारे में कोई बयान दे सकती हैं। दोपहर साढ़े 3 बजे यह घटना हुई थी। अब तक मिली जानकारी के अनुसार किसान आंदोलन को लेकर दिए कंगना रनौत के बयान से CISF की सुरक्षाकर्मी आहत थी। फिलहाल एयरपोर्ट पर मौजूद सिक्योरिटी ने कुलविंदर को कमांडेंट कमरे में बैठाकर रखा है। वहां उनसे पूछताछ की जा रही है कि आखिर उन्होंने कंगना रनौत को थप्पड़ क्यों मारा।

किसान आंदोलन के दौरान कंगना ने किए थे कई ट्वीट

कंगना ने मामले की शिकायत कर महिला जवान को नौकरी से हटाने और उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। गौरतलब है कि 2020 में शुरू हुआ किसान आंदोलन करीब डेढ़ सालों तक चला था। इसके तहत बड़ी संख्या में किसानों ने दिल्ली की सीमाओं पर धरना दिया था। गाजीपुर, टिकरी बॉर्डर समेत कई जगहों पर चक्का जाम था।

मंडी से कांग्रेस के विक्रमादित्य को हराकर बनी हैं सांसद

इसके अलावा हरियाणा, पंजाब और राजस्थान जैसे राज्यों में भी प्रदर्शन हुए थे। इस आंदोलन के दौरान कंगना रनौत ट्विटर पर काफी सक्रिय थीं। उन्होंने आंदोलन पर सवाल उठाए थे। इस मामले में उनकी पंजाब की कई सिलेब्रिटीज से बहस तक हुई थी। अब वह हिमाचल की मंडी लोकसभा सीट से भाजपा की सांसद हैं। इस सीट से उन्होंने कांग्रेस विक्रमादित्य सिंह को मात दी है, जो राज्य के पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के बेटे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button