राजनीती

तेलंगाना के एग्जिट पोल में कांग्रेस को बढ़त फिर भी पार्टी अलर्ट, विधायकों को बें…

तेलंगाना विधानसभा चुनाव को लेकर एग्जिट पोल में कांग्रेस को साफ बढ़त मिलती दिख रही है। इसके बावजूद पार्टी हाईकमान पूरी तरह से अलर्ट नजर आ रहा है। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस अपने विधायकों को बेंगलुरु या किसी और शहर भेजने की तैयारी में है ताकि कड़ा मुकाबला होने की स्थिति में खरीद-फरोख्त से बचा जा सके। मालूम हो कि 3 दिसंबर को असेंबली इलेक्शन के रिजल्ट आने हैं। 2014 में तेलंगाना के गठन के बाद से बीआरएस यहां सत्ता में है। पिछली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (UPA) सरकार ने आंध्र प्रदेश को विभाजित कर तेलंगाना राज्य का गठन किया था।  

तेलंगाना कांग्रेस यूनिट के चीफ रेवंत रेड्डी पार्टी की जीत को लकेर आश्वस्त हैं। हालांकि, सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि विधायकों को दूसरी जगह शिफ्ट करने का प्लान है जिस पर अंतिम फैसला रविवार को नतीजे आने के बाद लिया जाएगा। सीनियर लीडर ने बताया, ‘अगर कांग्रेस 70 सीटें जीतने से दूर रह जाती है तो ऐसी स्थिति में विधायकों को बेंगलुरु या किसी और शहर में भेजे जाने का प्रस्ताव है। ऐसा संभव है कि इन लोगों को किसी होटल या रिजॉर्ट में ठहराया जा सकता है।’

तेलंगाना में विधानसभा की कुल 119 सीटें हैं और सरकार बनाने का जादुई आंकड़ा 60 है। कई एग्जिट पोल्स में कांग्रेस को थोड़ी बढ़त मिलती दिख रही है जबकि कुछ में पार्टी बड़ी जीत की ओर बढ़ रही है। इसे ध्यान में रखते हुए कांग्रेस आलाकमान अपने 2 कोऑर्डिनेटर्स को विधानसभा क्षेत्रों में भेज चुका है जहां उसके उम्मीदवारों के जीतने की संभावना है। चुनाव अधिकारियों से जीत का सर्टिफिकेट मिलने के बाद उन्हें किसी गुप्त जगह पर भेजा जा सकता है। इसके बाद बेंगुलरु में सभी का एक साथ कारों का काफिला निकाला जाएगा।

रिपोर्ट की मानें तो कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार विधायकों को शिफ्ट करने में बड़ी भूमिका निभा सकते हैं। वह इससे पहले भी इस तरह का रोल प्ले कर चुके हैं। 2018 में कर्नाटक विधानसभा में फ्लोर टेस्ट के दौरान कांग्रेस और जनता दल (एस) के विधायकों को सुरक्षित जगह पर भेजा गया था। इसके पीछे शिवकुमार ने कड़ी मेहनत की थी। बता दें कि तेलंगाना में इंडिया टीवी-सीएनएक्स ने कांग्रेस को 63-79, बीआरएस को 31-47, भाजपा को 2-4 और एआईएमआईएम को 5-7 सीटें मिलने का अनुमान जताया है।

जन की बात के अनुसार कांग्रेस को 48-64, बीआरएस को 40-55, भाजपा को 7-13 और एआईएमआईएम को 4-7 सीटें मिल सकती हैं। रिपब्लिक टीवी-मैट्रिज ने तेलंगाना में कांग्रेस को 58-68, बीआरएस को 46-56, बीजेपी को 4-9 और एआईएमआईएम को 5-7 सीटें मिलने का अनुमान जताया है। वहीं, टीवी9 भारतवर्ष ने कांग्रेस को 49-59 सीट, बीआरएस को 48-58 सीट, भाजपा को 5-10 सीट और एआईएमआईएम को 6-8 सीट मिलने का अनुमान जताया है। न्यूज 24-टुडेज चाणक्य ने कांग्रेस को 71 सीटें देकर स्पष्ट जीत की उम्मीद जताई है, जबकि बीआरएस को 33 और भाजपा को 7 सीटें मिलने का अनुमान है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button