छत्तीसगढ़मनोरंजन

छत्तीसगढ़ी फिल्म हंडा को देखने उमड़े राजधानी के दर्शक , निर्माता मोिहत साहू की फिल्म हण्डा बना रहा सफलता का रिकार्ड

तीन दिनों में हण्डा ने तोड़ा इस साल की सभी छॉलीवुड फिल्मों का रिकॉर्ड, रविवार सभी शो हाउसफुल

 

छत्तीसगढ़ी फिल्म हण्डा को रिलीज हुए तीन दिन ही हुए है। रविवार को हण्डा देखने दर्शकों का हुजूम उमड़ पड़ा। वहीं प्रदेश के सभी टाकिजों में यह फिल्म हाउसफुल रहा। यह पहली बार हुआ है कि छत्तीसगढ़ी सिनेमा के इितहास में हण्डा इस साल रिलीज हुई सभी िफल्मों का रिकार्ड तोड़ दिया है। 5 जुलाई शुक्रवार को राजधानी रायपुर के मध्य स्थित श्याम टाॅकीज में छत्तीसगढ़ फिल्म हंडा की रिलीज हुई। जहां दर्शकों का हुज्जूम दिखाई दिया। रविवार को हाण्डा को देखने दर्शकों की भारी भीड़ के चलते टाॅकीज परिसर से लेकर बूढ़ापारा के सड़कों पर मेले जैसा माहौल दिखाई दिया। छत्तीसगढ़ी फिल्म हंडा लोभ, लालच और वक्त से पहले, किस्मत से ज्यादा पाने की कहानी कहती है। एन.माही फिल्मस प्रोडक्शन के बनैर तले, छत्तीसगढ़ के मशहूर निर्माता मोहित साहू की प्रस्तुति छत्तीसगढ़ी फिल्म हंडा 5 जुलाई शुक्रवार को पूरे प्रदेश के 70 स्क्रीन पर एक साथ रिलीज किया गया।
फिल्म हंडा को दर्शकों ने मनोरंजन से भरपूर पैसा वसूल बताया है। फिल्म की कहानी में काॅमेडी का तड़का सबको पसंद आई, वहीं पुराने जमाने की हंडा की कहानी को फिल्म हंडा के रूप जीवंत करने के लिए छत्तीसगढ़ के मशहूर निर्माता मोहित साहू की इस प्रस्तुति को दर्शकों की खूब सराहना मिल रही है।
भैरा कका के साथ फूफू की जोड़ी भी कमाल का है। फूफू के रोल में अनिल सिन्हा दो किरदारों के साथ नए अंदाज में नजर आये। अन्य कलाकारों में छत्तीसगढ़ी फिल्म हण्डा का निर्देशन व लेखक अमलेश नागेश, अभिनेत्री अमृता कुशवाहा, अनिल सिन्हा, नीरज उईके, विनायक अग्रवाल, जीतू दुलरवा, धर्मेन्द्र साहू, मोहित जोशी, पप्पू चंद्राकर, निरज ऊईके विनायक अग्रवाल, धर्मेन्द्र साहू, अमित गोस्वामी, लतीश भांगे, रूद्रा राजपूत, मोहित जोशी, हेमलाल कौशल, राजेश पांड्या मुख्य किरदार में नजर आये। फिल्म का डीओपी रजत सिंह राजपूत, एडिटर गौरांग त्रिवेदी, उमेश ध्रुव, म्यूजि़क डायरेक्टर ओमी स्टाइलियो का है। स्वर दिया हैं सुनील सोनी व अनुपमा मिश्रा ने, कोरियोग्राफर चन्दन दीप, डान्स कामदेव डान्स ग्रुप का है वहीं फिल्म के वितरक मां फिल्मस के तरुण सोनी हैं। प्रदेश के 70 सिनेमाघरों में पहले ही दिन उमड़ते भीड़ को देखते हुए लगता है मानो सचमुच में कोई हण्डा तिहार है, जिसे मनाने चित्रमंदिर में लोग एकत्रित हो रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button